Industria

DNA ANALYSIS: मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री को सजा

डीएनए

मलेशिया (malashiya)के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज़ाक (najib razak)को भ्रष्टाचार के एक मामले में सज़ा सुनाई गई है. 

नई दिल्ली​: मलेशिया (malashiya)के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज़ाक (najib razak)को भ्रष्टाचार के एक मामले में सज़ा सुनाई गई है.  67 वर्ष के नजीब रज़ाक पर  one Malaysia Development Berhad scandal में भ्रष्टाचार के सात आरोप लगे थे. उन पर लगे सातों आरोप सही साबित हुए. जिसके बाद मलेशिया की हाईकोर्ट ने उन्हें 12 साल की सजा सुनाई गई. 

सरकारी फंड बनाकर की सार्वजनिक धन की चोरी


दरअसल नजीब रज़ाक ने प्रधानमंत्री रहते हुए मलेशिया के विकास के लिए एक सरकारी फंड बनाया था. वर्ष 2009 से 2014 के बीच रज़ाक समेत मलेशिया के कई सरकारी अधिकारियों ने इस फंड में से करीब साढे 33 हज़ार करोड़ रुपये चुरा लिए. आरोप है कि इसमें से नजीब रज़ाक को करीब 5 हज़ार 200 करोड़ रुपये मिले. भ्रष्टाचार के इस मामले को मलेशिया में 1 MDB स्कैंडल के नाम से जाना जाता है. ये दुनिया के सबसे बड़े Financial Frauds में से एक है. 

दुनिया भर में खरीदी लग्जरी प्रॉपर्टी


इन लोगों ने इस पैसे से दुनिया भर में करीब 1500 करोड़ रुपये की Luxury Properties खरीदी. अमेरिका के Las Vegas शहर में जुआ खेला. करीब 1500 करोड़ रुपये की महंगी Painting खरीदी. यहां तक कि एक मशहूर Hollywood फिल्म को भी Produce किया. जिसका नाम है THE WOLF OF WALL STREET. इस फिल्म में हॉलीवुड के सबसे मशहूर और महंगे अभिनेताओं में से एक Leonardo Dicaprio मुख्य किरदार में थे. विडंबना है कि ये फिल्म भी एक धोखेबाज़ और भ्रष्टाचारी व्यक्ति की कहानी पर आधारित थी.

वर्ष 2015 में हुआ भ्रष्टाचार का खुलासा


नजीब रजाक और मलेशिया के सरकारी अधिकारियों द्वारा किए गए इस भ्रष्टाचार का खुलासा 2015 में हुआ था. 2016 में दुनिया के कई देशों की सरकारों और मीडिया ने इस मामले की पड़ताल शुरू की. इस दौरान आई Media Reports से पता चला कि नजीब रज़ाक और उनकी पत्नी ने सरकारी फंड में से करीब 112 करोड़ रुपये विदेशों में घूमने और महंगी शॉपिंग के नाम पर खर्च कर दिए थे.  इसका नतीजा ये हुआ कि वर्ष 2018 में नजीब रज़ाक की पार्टी 60 वर्षों में पहली बार चुनाव हार गई. इससे पहले नजीब रज़ाक 10 वर्षों तक सत्ता में थे ।

छापेमारी में मिली करोड़ों रूपये की संपत्तियां


इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. उनके पास से 1400 NECKLACE, 567 Hand Bags,423 महंगी घड़ियां और लगभग 1800 करोड़ रुपये का दूसरा महंगा सामान मिला. जैसे ही पुलिस द्वारा की गई इस Raid की तस्वीरें टीवी पर आईं. वैसे ही नजीब रज़ाक का राजनैतिक करियर हमेशा के लिए खत्म हो गया. 

बराक ओबामा, डॉनल्ड ट्रंप से थे करीबी संबंध


नजीब रज़ाक एक समय में बहुत शक्तिशाली थे. उनके अमेरिका के बराक ओबामा और डोनल्ड ट्रंप जैसे राजनेताओं से बहुत करीबी संबंध थे. वो अंतर्राष्ट्रीय मामलों में चीन के भी सहयोगी और समर्थक थे. लेकिन अब उन्हें एक लंबा समय जेल में गुजारना पड़ सकता है.

ये भी देखें-

Related Articles

Close